हमारी नन्ही परी

हमारी नन्ही परी
पंखुरी

Monday, April 18, 2011

पंखुरी मैम की क्लास...

आज आप सब के रिवीज़न का दिन है . हाँ जी हाँ ...सही सुना आपने रिवीज़न...! 
बचपन में आप सबने ABCD  तो पढी ही होगी,  है न ....लेकिन पक्की बात है कि फिर उसके बाद कभी उसका रिवीज़न नहीं किया होगा. हाँ भई... आप सब बड़े लोगो के पास ढेरों काम होने का सदाबहार बहाना जो रहता है.लेकिन अब किसी का कोई बहाना नहीं चलेगा , क्योंकि अब शुरू हो गयी है पंखुरी मैम की क्लास... तो आप भी इस क्लास में आइये और पढना शुरू कर दीजिये ... ए फॉर एपल , बी फॉर ....

so, r u ready ... ?

 C फॉर कैत

D   फॉर डॉग...नहीं बाबा.... दौगी

देखिये, वही पढ़िए जो मैडम बताएँ वरना मैडम नाराज़ हो जाएगीं ... हाँ ..... ओके !

M  फॉर मेंदो पूती (mango frooti)

E   फॉर आंती (हाथी)

वैरी गुड ....ऐसे ही अच्छे बच्चों की तरह पंखुरी मैम की क्लास अटेंड  करते रहिये ... बाकी की पढ़ाई नेक्स्ट टाइम ....बाए बाए !!!

10 comments:

  1. हमने अटेन्ड की है पंखुरी मैम की क्लास ... उन्होंने बताया - ‘एन’ फ़ार अन्दा(अण्डा)...(वो घोंसले में रखा है न ...)और हाँ ‘जे’ फ़ार मम (पानी)...(वो जग के अन्दर है).

    ReplyDelete
  2. हा हा हा ....Sooo sweeeeet....and Lovely!!!

    ReplyDelete
  3. बहुत सुन्दर पोस्ट

    ReplyDelete
  4. भगवान हनुमान जयंती पर आपको हार्दिक शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  5. बहुत अच्छी लगी पंखुरी मैम की क्लास...

    ReplyDelete
  6. ओ-हो!!!....पंखुरी मैम की क्लास तो बड़ी मज़ेदार है... मैं इसे ज़रूर अटेन्ड करूँगी हमेशा...

    ReplyDelete
  7. आपकी उम्दा प्रस्तुति कल शनिवार (23.04.2011) को "चर्चा मंच" पर प्रस्तुत की गयी है।आप आये और आकर अपने विचारों से हमे अवगत कराये......"ॐ साई राम" at http://charchamanch.blogspot.com/
    चर्चाकार:-Er. सत्यम शिवम (शनिवासरीय चर्चा)

    ReplyDelete
  8. सॉरी पंखुरी मैम, मुझे तो कुछ भी याद नहीं हुआ....
    शायद फिर से पढ़ना पड़ेगा....

    ReplyDelete
  9. यह क्लास तो मजेदार है...
    ________________________
    'पाखी की दुनिया' में 'पाखी बनी क्लास-मानीटर' !!

    ReplyDelete